मैट्रिक-इंटर की परीक्षा 14 मार्च से, परीक्षार्थियों को मिलेगा 15 मिनट का अतिरिक्त समय

मैट्रिक-इंटर की परीक्षा 14 मार्च से, परीक्षार्थियों को मिलेगा 15 मिनट का अतिरिक्त समय

रांची, 9 मार्च । राज्य में मैट्रिक-इंटर की परीक्षा 14 मार्च से शुरू हो रही है। परीक्षा में करीब आठ लाख विद्यार्थी शामिल होंगे। झारखंड एकेडमिक काउंसिल (जैक ) ने मैट्रिक और इंटर की परीक्षा को लेकर सारी तैयारियां पूरी कर ली हैं। जैक अध्यक्ष अनिल कुमार महतो ने कहा कि विद्यार्थियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए गृह जिलों में परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। जैक बोर्ड के द्वारा समय से प्रश्न पत्र एवं अन्य परीक्षा सामग्री जिलों को उपलब्ध करा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा पाने के लिए मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट जून के प्रथम सप्ताह में जारी कर दिया जाएगा, जिससे विद्यार्थियों को किसी तरह की दिक्कत ना हो।

परीक्षा में शामिल होने वाले विद्यार्थियों को प्रश्नों को पढ़ने और समझने के लिए अलग से 15 मिनट का समय दिया जाएगा। जैक ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिया है। साथ ही कदाचार मुक्त परीक्षा आयोजित करने के लिए रांची सहित राज्य के विभिन्न जिलों में व्यापक व्यवस्था की गई हैं। मैट्रिक और इंटर की परीक्षा 14 मार्च से तीन अप्रैल तक चलेगी। प्रथम पाली में परीक्षा सुबह 9:45 से दोपहर 1:05 तक आयोजित किया जाएगा। ओएमआर शीट आधारित परीक्षा सुबह 9:45 से 11:20 तक और उत्तर पुस्तिका आधारित परीक्षा 11:25 से दोपहर 1:05 तक चलेगी। इसमें 40 अंक के ऑब्जेक्टिव और 40 अंक के सब्जेक्टिव प्रश्न परीक्षार्थियों से पूछे जाएंगे।

मैट्रिक इंटर परीक्षा कदाचार मुक्त आयोजित करने के लिए जिला स्तर पर उपायुक्त के नेतृत्व में बनायी गई कमेटी ने व्यापक तैयारी की है, जिसके तहत सीसीटीवी के जरिए परीक्षार्थियों पर नजर रखी जाएगी। परीक्षा केन्द्रों का प्रखंड विकास पदाधिकारी, अनुमंडलाधिकारी और उपायुक्त औचक निरीक्षण करेंगे। कदाचार करते पकड़े जाने पर परीक्षार्थी गिरफ्तार भी हो सकते हैं। इसके अलावा परीक्षा केन्द्र पर समुचित बेंच-डेस्क, निर्बाध बिजली और शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं।

जैक की ओर से इस वर्ष राज्य भर में करीब 1400 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं, जहां करीब आठ लाख विद्यार्थी परीक्षा देंगे। रांची में मैट्रिक और इंटर की परीक्षा के लिए इस साल 159 केंद्र बनाए गए हैं, जहां लगभग 82 हजार विद्यार्थी परीक्षा देते नजर आएंगे। विद्यार्थियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जैक बोर्ड ने परीक्षा केंद्र को प्रखंड स्तर से लेकर अनुमंडल स्तर तक में निर्धारित किया है, जिसके तहत मैट्रिक का परीक्षा केंद्र प्रखंड स्तर पर, जबकि इंटर का परीक्षा केंद्र अनुमंडल स्तर पर बनाया गया है। जैक के अनुसार इस साल मैट्रिक की परीक्षा में लगभग 4.50 लाख और इंटर की परीक्षा में 3.50 लाख छात्र-छात्राएं शामिल होंगे।

Leave Your Comment