2020 में पाकिस्तान में आतंकवाद की जड़ें और हुईं मजबूत, 146 हुए आतंकी हमले, नेशनल प्लान कारगर नहीं हुआ

इस्लामाबाद : पाकिस्तान में 2020 में आतंकवाद की जड़ें और मजबूत हुईं हैं। यहां पाकिस्तानी तालिबान और उसके दलों ने अपने वजूद को बढ़ाया है। सरकार का नेशनल प्लान भी इनकी ताकत को कम नहीं कर सका। पाकिस्तान इंस्टीट्यूट फॉर पीस स्टडी ने अपनी रिपोर्ट में पिछले साल का यह निष्कर्ष निकाला है।
2020 में विभिन्न आतंकी संगठनों, कट्टरपंथियों ने पाकिस्तान में 146 आतंकी हमले किए। इनमें तीन आत्मघाती विस्फोट भी किये गए। बीते साल में पाकिस्तान में प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान (टीटीपी) के लगातार हमले जारी रहे। इस संगठन ने पाकिस्तान में 67 आतंकी हमले किए हैं। यह आतंकी हिंसा का लगभग 46 फीसद है।
टीटीपी ने ताकत बढ़ाते हुए अन्य आतंकी संगठनों को अपनी गतिविधियों में किया शामिल
टीटीपी ने ताकत बढ़ाते हुए अन्य आतंकी संगठनों को भी अपनी गतिविधियों में शामिल किया है। इसमें धर्म के नाम पर आतंक फैलाने वाले संगठन भी शामिल हैं। इन्हीं संगठनों ने क्वेटा और पेशावर में दो शक्तिशाली आतंकी हमले किए थे। पाकिस्तान के आतंकवादियों के खिलाफ नेशनल प्लान को आंशिक सफलता ही हासिल हुई।

Leave Your Comment

For advertise please contact

Click Here